You are currently viewing eSIM क्या है ? | ई-सिम के फायदे है

eSIM क्या है ? | ई-सिम के फायदे है

eSIM kya hota hai – आज के जमाने में सभी के पास मोबाइल फोन होगा जिसमें हम सिम कार्ड का प्रयोग करते हैं चाहे वह nano या micro sim card हो जिनकी मदद से हम फोन पर काम कर सकते हैं और यह भी कह सकते हैं कि मोबाइल फोन में मुख्य भूमिका सिम कार्ड भी निभाता है।

सिम कार्ड  खरीदने की एक अलग हड़बड़ी है उसके बाद उसे स्टोर करना पड़ जाए तब हम कागज में लपेट कर सिम कार्ड को वॉयलेट में रखना कितना मुश्किल होता है यह हम भी जानते हैं लेकिन इसकी जरूरत क्या है जरा सी स्टोरी जो contact , message या आज के समय में जिस प्रकार micro SD card या memory card की जगह अब फोन में ही उसका storage बना दिया जाता है उसी प्रकार ( कांटेक्ट , मैसेज )इन सभी चीजों के लिए सिम कार्ड को उसी मोबाइल phone के अंदर fix किया जाता है जो एक छोटी chip की तरह है जिसे हम e – sim के नाम से भी जानते हैं तो चलिये  what is eSIM के बारे मे जानते है ।

eSIM kya hota hai – What is eSIM in Hindi

जिस प्रकार सिम कार्ड में जो hardware और software का प्रयोग किया गया है अगर वह हमारे फोन में ही set up हो जाए तो उसे हम e sim कार्ड कहते हैं और इसमें जो हार्डवेयर है  उसकी मदद से हम बार-बार Re write कर सकता है , हर सिम कार्ड का ( international mobile subscriber identity ) हर ग्राहक का अलग – अलग होता है।

हमें यह जानकर खुशी होगी कि इसमें सिम स्लॉट की कोई जरूरत नहीं होती यह motherboard में जुड़ा हुआ होता है या यह भी कह सकते हैं की यह शारीरिक तौर पर मौजूद नहीं होता है।

इसे हम embedded-sim या embedded global integrated circuit कार्ड कह सकते हैं  और device to device हमें सिम कार्ड को बदलने की जरूरत भी नहीं होती है और इसमें GSM technology प्रयोग किया गया है।

किसने e-sim को लॉन्च किया है ?

सबसे पहले e sim कार्ड का इस्तेमाल 2016 में samsung कंपनी द्वारा बनाए गए gear S2 smart watch  किया गया था उसके बाद इसका इस्तेमाल apple watch 3 और iphone xs में किया गया था जो apple कंपनी द्वारा चलाया जाता है या इन product को बनाया जाता है जो पूरे विश्व भर में सबसे ज्यादा secure system भी प्रोवाइड कर आता है ग्राहकों को और यह एक अमेरिकी की कंपनी है।

कुछ महीने पहले जानी मानी कंपनी motorola द्वारा मोटरोला Razr मोबाइल फोन लांच किया गया है जिसमें e sim की भी सुविधा उपलब्ध है जो भारत में भी उपलब्ध है जिसे अप्रैल के महीने में लॉन्च किया गया है।

भारत में किन सिम कार्ड प्रोवाइडर के द्वारा eSIM लांच हुआ है :-

  • भारत में ई सिम सबसे पहले लांच करने वाली दो कंपनियां हैं reliance jio और airtel इन्हीं कंपनियों द्वारा अपने देश में eSIM की घोषणा की गई थी।
  • कुछ दिनों पहले की बात है वोडा फोन – आइडिया ने भी भारत में eSIM लांच करने की घोषणा कर दी है जो और कंपनियों के साथ-साथ पूरे भारत देश में ही E sim लॉन्च कर दिया है।

eSIM कैसे काम करता है ?

जब आप कोई ऐसा फोन खरीदते हैं जिसमें eSIM का feature मौजूद होता है और उसमें eSIM पूरी तरीके से खाली रहता है तो ऐसे में उसे activate करने के लिए हमें service provider जैसे Airtel, Jio आदि से संपर्क करना होगा सर्विस प्रोवाइडर हमें एक QR code देता है जिसे scan करते ही फोन में मौजूद ही eSIM Activate हो जाता है और आप तमाम या कई सुविधाओं और Features का लाभ पूरी तरीके से उठा सकते हैं.

भारत में Jio, Airtel, Vi जैसी टेलीकॉम सर्विस कंपनी है ही eSIM सेवा उपलब्ध करवा रही हैं बाकी टेलीकॉम कंपनियों के पास है eSIM सुविधा अभी उपलब्ध नहीं है, ऐसे में अगर आप Airtel, Jio, Vi  के ग्राहक नहीं हैं तो आपको अपना नंबर एयरटेल, जिओ, Vi में port करवाना होगा.

तभी जाकर आप इस सेवा का लाभ उठा पाएंगे लेकिन यह सवाल हमारे मन में जरूर आ रहा होगा कि eSIM को Activate करने का process क्या है और इसके लिए कौन-कौन से document चाहिए तो इसके लिए एयरटेल और जिओ दोनों का ही अलग-अलग तरीका है आइए इन दोनों तरीकों के बारे में जानते हैं.

Physical sim को eSIM में कैसे बदले | Change Physical Sim to eSIM

E sim एक साधारण छोटी चिप है जो हमारे मोबाइल फोन में होती है और यह एक electronic सिम है Physical sim to e sim

अब हम airtel sim को घर बैठे आसानी से हम शारीरिक सिम कार्ड को E सिम कार्ड में बदल या कन्वर्ट कर सकते हैं जो इसमें सबसे अच्छी बात है।

  1. हमें मैसेज भेजने वाले icon पर क्लिक कर या s.m.s. में जाकर typing करना या लिखना है 121 पर हमें अपने  text box में e sim email id , gmail id ( example :- e sim [email protected] ) को send करना होगा अगर हमारा मैसेज successful send हो जाएगा।
  2. उसके बाद एयरटेल द्वारा मैसेज भेजा जाता है कि आपने इस नंबर पर E sim card का request या मैसेज किया हैं।
  3. उनके द्वारा पूछा जाता है कि अगर आपको E सिम कार्ड चाहिए इस नंबर पर तो 1 type करके send कीजिए और फिर उनके द्वारा मैसेज आता है कि आपको थोड़ी देर बाद हम संपर्क करेंगे।
  4. उसके कुछ सेकंड के बाद एयरटेल की तरफ से कॉल आएगा और कंपनी के द्वारा पूछा जाएगा कि कृपया आप यह सुनिश्चित करें कि आपके पास Esim हैंडसेट या मोबाइल फोन है आपको QR code आपके ई मेल या gmail पर आपको मिलेगा जिसको आपको स्कैन करना होगा अगर आप को 1 घंटे के अंदर QR कोड नहीं मिलता है तब आप 121 पर कॉल करें और अधिक जानकारी के लिए भेजे गए मैसेज को देखें।
  5. ई सिम के अनुरोध या confirm करने के लिए 1 दबाएं या cancel करने के लिए 2 दबाएं यह पूछा जाता है।

QR code eSIM कुछ मिनटों

ज्यादा समय ना लगते हुए QR code कुछ मिनटों में आ जाता है हमारे ई मेल या gmail id पर उसके बाद हमें QR कोड को स्कैन करना है फिर मोबाइल प्रोसेस में पूछा जाता है कि आप ई सिम करना चाहते हैं उसके 2 घंटे बाद हमारा यह सिम activate हो जाता हैं।

खास बात यह है कि जब तक हमारा E sim एक्टिवेट नहीं हो जाता तब तक physical सिम एक्टिवेट रहेगा।

Airtel eSIM Activate कैसे करें

अगर हम Airtel के Customer हैं और अपने मोबाइल नंबर को eSIM में बदलना चाहते हैं तो इसके लिए हमें type करना होगा eSIM {space} Registered Email ID और send दीजिए 121 पर जैसे कि अगर हमारी Email या Gmail ID  [email protected] है तो हमें type करना होगा eSIM [email protected] और message हमें की मदद हमें 121 पर भेज देना है।

उसके बाद हमें एक confirmation message मिलेगा जिसमें हमसे पूछा जाएगा कि क्या आप अपने physical SIM card को eSIM में बदलना चाहते हैं तो जवाब के तौर पर हमें 1 लिखकर message भेज देना है जिसका मतलब होता है हां और यह जवाब आपको 60 सेकंड के अंदर देना है क्योंकि 60 सेकंड के बाद message expire हो जाता है

Confirmation के बाद हमारी Email या Gmail ID पर एक mail आएगा जिसमें हमें एक QR code  देखने को मिलेगा इसी qr code को scan करके e SIM activate हो जाएगा लेकिन सवाल यह है कि कैसे तो इसका सबसे आसान जवाब है अगर आप iPhone User है तो आपको अपने फोन की setting में जाना होगा और mobile data पर click करना होगा उसके बाद Add data plan पर click करना होगा और अंत में QR code पर click करके Mobile Camera की मदद से QR code को scan करना होगा.

वहीं अगर आप Android user हैं तो इसके लिए हमें अपने फोन की Setting में जाना होगा और बारी-बारी से सब पर click करना होगा जैसे कि Network & Internet – Mobile Network – Advanced – Carrier और Add Carrier पर click करना है. अंत में Scan QR Code पर click करके Camera की मदद से QR code को scan करना होगा इसके बाद eSim हमारे मोबाइल फोन में Activate हो जाएगा.

Reliance Jio eSIM Activate कैसे करे ?

इसमें हमें नजदीकी jio स्टोर पर जाकर dentity proof ( आधार कार्ड , मोबाइल फोन जिस में सिम कार्ड एक्टिवेट कराना है, मोबाइल फोन IMEI number ) ले जाकर हम E sim एक्टिवेट करा सकते हैं।

हमारा नंबर e sim में पूरी तरीके से 2 घंटे में पूरा होता है और सभी प्रोवाइडर पर इतना ही समय लगता है चाहे वह जिओ , एयरटेल , वोडा आइडिया हो सभी में लागू होता है।

फिलहाल कुछ दिन पहले की बात है कि ericssion ने e sim कार्ड मे automated technology का प्रयोग किया गया है जो मशीनों द्वारा संचालित किया जाएगा जिससे ग्राहकों को भी काफी फायदा होगा वह आसानी से अपने सिम कार्ड को E- सिम में आसानी से कर सकेंगे।

e-SIM के फायदे

अगर eSIM को भविष्य की technology कहे तो यह गलत नहीं होगा क्योंकि आने वाले समय में हर मोबाइल फोन में eSIM ही देखने को मिलेगा अब आप पूछेंगे कि ऐसा क्यों तो ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें बहुत से फायदे हैं चलिए अब जानते हैं कौन-कौन से फायदे हैं

1. Less Battery Consumption :- e-SIM software की मदद से काम करता है इसलिए यह physical SIM card से कम battery खर्च करता है।

2. Anti-theft :- e-SIM का सबसे बड़ा फायदा हमें यह देखने को मिलता है कि ना तो यह गुम हो सकता है और ना ही चोरी. हां अगर मोबाइल फोन चोरी हो जाए तो बात अलग है लेकिन इसका भी एक फायदा हमें देखने को मिलता है दरसल चोर मोबाइल फोन से Sim Card तो नहीं निकाल सकता इसलिए उसे पकड़ना भी आसान हो जाता है।

3. Space Saving :- e-SIM मोबाइल फोन में होने के कारण अलग से Sim Card Tray नहीं देना पड़ता है इससे जगह की बचत भी होती है और इसी बची हुई जगह को दूसरे जरूरी components parts के लिए भी उपयोग में लाया जा सकता है।

4. Network Switching :- e-SIM की सहायता से हम बड़ी आसानी से किसी भी service provider में बदल सकते हैं जैसा कि अगर आप Airtel के ग्राहक हैं और Jio की service का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप बिना अपना नंबर बदले और बिना सिम कार्ड बदले Jio की सेवा का लाभ eSIM की सहायता से उठा सकते हैं।

5. Best for Travelers :- जो लोग देश-विदेश की यात्रा करते हैं उनके लिए e-SIM किसी वरदान से कम नहीं है क्योंकि यह travelers को Roaming Charges से भी बचाता है।

6. Security :- अगर expert की मानें तो e-SIM physical SIM से secure होता है ऐसे में अगर security के लिहाज से देखें तो इसमें एक बेहतर विकल्प देखने को मिलता है।

e- SIM के नुकसान

कुल मिलाकर eSIM कई सारे फायदे हमें देखने को मिलते हैं लेकिन एक नुकसान भी है दरासल एक फोन से लेकर दूसरे फोन में हम नहीं डाल सकते हैं, क्योंकि यह फोन के साथ ही जुड़ा होता है।

ऐसे में अगर आपके मोबाइल फोन की Battery Low हो जाती है फोन बंद हो जाता है और आप चाह कर भी सिम कार्ड को दूसरे फोन में नहीं डाल सकते हैं ताकि जरूरी Calls और message मिल सके वैसे तो यह मुमकिन नहीं है।

आप एक तरीके से call forwarding और call barring के जरिए इसका हल निकाल सकते हैं लेकिन इसके लिए भी एक दूसरा फोन और सिम कार्ड होना जरूरी है।

महत्वपूर्ण प्रशन eSIM के बारे में

  • क्या e sim safe है ?

GSMA ने कहा है कि e sim secure है क्योंकि यह ग्राहक द्वारा ही ऑपरेट किया जा सकता है।

  • कैसे जानेंगे कि हमारा E सिम कार्ड एक्टिवेट हो गया है ?

अगर हमारे फोन में यह सभी चीजें चल रही है तो हम कह सकते हैं कि E सिम एक्टिवेट हो गया है या चालू हो गया है जैसे फोन जाना, मैसेज , इंटरनेट चलना यह सभी साधारण चीजें जो हम अपने मोबाइल फोन में  सिम कार्ड द्वारा करते हैं।

  • क्या सऊदी अरब में E सिम उपलब्ध है ?

हां सऊदी अरब में भी इसकी सुविधा उपलब्ध है इसका इस्तेमाल कर के हम भारत में भी बात कर सकते हैं।

  • हम एक साथ कितनी E सिम इस्तेमाल कर सकते हैं ?

हम एक साथ फिलहाल अभी एक सिम कार्ड इस्तेमाल कर सकते हैं।

आज के युग में जिस प्रकार आधुनिकता की तरफ बढ़ रहे है उसी प्रकार आने वाले समय में हमारे जीवन पर हावी होती जा रहा है उसी प्रकार आने वाले समय में e – sim कार्ड का प्रयोग भारत में भी काफी होने लगेगा।

आज आपने सीखा

उम्मीद करता हूं इस Article के जरिए आपकोeSIM kya hota hai ?और यह कैसे काम करता है ? इस विषय से जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी अगर अब भी Topic को लेकर आपके मन में कोई सवाल है तो नीचे comment box में पूछ सकते हैं अगर आपको यह Airtcle पसंद आया है तो इसे Like और  Share कीजिए और ऐसे ही technology और telecom से related चीजों के लिए हमारे blog को Subscribe करें ताकि जब भी हमारा नया Article publish हो आपको notification मिल सके।

Leave a Reply